<Home
Preet Singh ( View Profile )

जज- तुम्हारा जुर्म साबित हो चुका है,
कल तुम्हे फांसी पर लटकाया जाएगा ।
चटनी सिंह- वो तो ठीक है,
पर उतारा कब जाएगा ?
मुझे दुकान भी तो खोलनी है ।

Share On Whatsapp

Language » Hindi






Leave a Reply